अक्षय तृतीया- बकवास और सच

1- अक्षय तृतीया के दिन सोना खरीदने का विज्ञापन पिछले एक माह से बहुत सारे समाचार पत्रों में तो देखने मिल ही रहा है WhatsApp पर भी इस तरह के मैसेज आ रहे हैं ।2- इसके अलावा बहुत सारे पोस्ट ऐसे दिख रहे हैं जिसमें यह बताया जा रहा है कि अक्षय तृतीया के दिन …

Continue reading अक्षय तृतीया- बकवास और सच

नयी व्यवस्था- नया भारत

भारतवर्ष की चलनेवाली दशा और ग्रहों के संचार के आधार पर 9 दिसंबर 2019 को मैंने अपने आलेख '2020', में यह लिखा - ' चुनावी प्रक्रिया को लेकर महत्वपूर्ण संवैधानिक संशोधन का संकेत है..' हम सब जानते हैं कि इस तरह की घटनाएं रातों रात नहीं होती| इस वर्ष ( 2022 ) के चैत्र शुक्ल …

Continue reading नयी व्यवस्था- नया भारत

वैलेंटाइन डे

आज सुबह से वशिष्ठ बाबू लोगों से घिरे हुए हैं| नंदी सुबह से तीन बार कोशिश कर चुकी है अपने बाबा से बात करने की लेकिन हो ही नहीं पा रहा है| मामा से जाकर नंदी पूछी, क्या बात है मामा आज बाबा को भोरे भोरे कौन लोग आकर घेर लिए हैं| मामा बोली, अरे …

Continue reading वैलेंटाइन डे

गोविंदाय नमोनमः

का हुआ वशिठ चाचा| इ भोरे भोरे कपार पर हाथ रख कर का बुदबुदा रहे हैं| क्या सोच रहे हैं बाबा? कल से देख रहे हैं आप एकदम गुमशुम होकर कुछ सोचते हैं फिर कुछ बुदबुदाते हुए लिखने लगते हैं, रामदीन चाचा के साथ साथ नंदी ने भी अपने बाबा से पूछा| कुछ नहीं बउआ, …

Continue reading गोविंदाय नमोनमः

वर्ष 2022 कैसा रहेगा देश के लिए: एक ज्योतिषीय विश्लेषण

किसी चीज को जानना ज्ञान है, उसे पहचानना विज्ञान है और उसके साथ एकात्म स्थापित करना ज्योतिष है| समग्रता और विविधता के बीच का एकात्म ज्योतिष है| ज्योतिष के अनुसार भले ही सारी चीजें भिन्न भिन्न प्रतीत होती हैं लेकिन उस विविधता के भीतर एकत्व कार्य कर रहा है| जब यह एकत्व स्थापित हो जाता …

Continue reading वर्ष 2022 कैसा रहेगा देश के लिए: एक ज्योतिषीय विश्लेषण

ज्योतिष की पहचान

ज्योतिष ऐसे ही Identity Crisis से नहीं गुजर रहा है| अब देखिये न एक जनवरी के आने से पहले ही ज्योतिष के नाम पर बाजार में राशि फल कथन का भोग परोसा जा चुका है| मेष राशि वालों के लिए ऐसा होगा यह साल, तुला राशि वालों के लिए ऐसा होगा यह साल, मीन राशि …

Continue reading ज्योतिष की पहचान

आने वाले वर्ष ( 2022 ) का सन्देश

आज का यह आलेख एक असहनीय पीड़ा में लिखा जा रहा है| अभी अभी एक दुर्घटना में देश ने अपने रक्षा प्रमुख के साथ साथ देश के अप्रतिम वीरों को खोया है| असहनीय पीड़ा इसलिए भी कि ग्रहों और प्रकृति के द्वारा बार बार इस तरह की दुर्घटना का संकेत दिए जाने के बाद भी …

Continue reading आने वाले वर्ष ( 2022 ) का सन्देश